कंगना रनोट के पर्सनल बॉडीगार्ड पर केस दर्ज

शादी का झांसा देकर 30 साल की ब्यूटीशियन से रेप किया, पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू की,

मुंबई के डी एन नगर पुलिस स्टेशन में एक ब्यूटीशियन की शिकायत के बाद कंगना रनोट के पर्सनल बॉडीगार्ड कुमार हेगड़े के खिलाफ रेप का मामला दर्ज किया गया है। 30 साल की इस विक्टिम की मानें तो हेगड़े ने शादी का झांसा देकर रेप किया है। मामला बुधवार रात दर्ज हुआ है। पुलिस आरोपी पर भारतीय दंड कानून सहित धारा 376, 377, और 420 के तहत मामला दर्ज कर आगे की छानबीन कर रही है।

8 साल पहले आरोपी के संपर्क में आई विक्टिम
ब्यूटीशियन ने अपने बयान में बताया कि 8 साल पहले वह आरोपी के संपर्क में आई थी। पिछले साल जून में आरोपी ने उसे शादी के लिए प्रपोज किया था। इसके बाद हेगड़े ने उसका रेप किया। इधर, जब कंगना की टीम से संपर्क करने की कोशिश की तो उन्होंने सिर्फ इतना बताया कि हेगड़े लंबे समय से छुट्टी पर चल रहा है। उन्हें इस मामले में ज्यादा जानकारी नहीं है। कुमार हेगड़े का नंबर भी ट्राय किया गया, लेकिन खबर लिखे जाने तक वह संपर्क में नहीं था और न ही मैसेजेस का कोई जवाब मिला।

विक्टिम की दोस्त ने सुनाई आरोपी की कहानी
दैनिक भास्कर से बातचीत में विक्टिम की दोस्त दिव्‍या कोटियान ने कहा, ‘आरोपी 9 साल से कंगना का पर्सनल बॉडीगार्ड है। अभी भी उनके लिए काम करता है। मेरी दोस्‍त से उसकी 8 साल की जान-पहचान है। दोनों का एक साल से अफेयर भी था। शादी के नाम पर उसने मेरी दोस्‍त को धोखा दिया और नाजायज संबंध बनाकर रखे। ज्‍यादातर टाइम वह शूट पर रहता था। मुंबई आने पर मेरी दोस्‍त के यहां ही रुकता था। दोस्‍त के साथ गोली और ड्रग्‍स लेकर अननैचुरल यौन संबंध भी बनाता था।’

मेरी दोस्त डिप्रेशन में चली गई : दिव्या कोटियान
दिव्‍या ने आगे बताया, ’27 अप्रैल को उसने मेरी दोस्‍त को कहा कि उसकी मां एक्‍सपायर हो गई है, उसे वहां जाना है। वहां पहुंचकर उसने चार दिन बातचीत भी की। फिर 1 तारीख से उसने अपना फोन ऑफ कर लिया। 4-5 दिन जब फोन ऑफ रहा तो मेरी दोस्‍त को घबराहट हुई। कुमार हेगड़े के कुछ कॉमन दोस्तों ने बताया कि उसने झूठ बोला है। वह तो शादी करने वाला है। इससे मेरी दोस्‍त डिप्रेशन में चली गई। यहां तक कि वह सुसाइड तक करने जा रही थी, मगर मेरे समझाने पर वह रुकी, संभली और पुलिस में केस कर दिया।’

दिव्या ने अपनी आपबीती भी साझा की
बातचीत में दिव्‍या ने आपबीती भी साझा की। उन्होंने बताया, मैं भी छेड़छाड़ की शिकार रही हूं। पिछले साल मैंने भी गणेश आचार्य के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। पर अब तक उस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। मैं तो डीसीपी सर से लेकर गृहमंत्री अनिल देशमुख तक से मिली थी, लेकिन अब तक आरोपी पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।’

New Source Web site : Bhaskar.com

Related Posts